Search
  • KUK NGO

“अन्याय के ख़िलाफ़ बोलना जरुरी है जिन्दा हो तो जिन्दा दिखना जरुरी है “

Updated: May 8, 2020

KUK NGO

“अन्याय के ख़िलाफ़ बोलना जरुरी है जिन्दा हो तो जिन्दा दिखना जरुरी है “ कल हुई चर्चा मे सुप्रीम कोर्ट बार कांउसिल के *सचिव माननीय अशोक अरोडा जी ने ख़ुशी उन्नति केंद्र के माध्यम से सब पेरेंट्स को यह सन्देश भिजवाया है की



1 . पेरेंट्स यह बात समझे की उनके पास खोने के लिए कुछ नहीं है पर उनकी क्रांति स्कूल वालो की दूकान जरूर बंद करवा सकती है


2. स्कूल वाले भी इंसान है पहले हमें जाकर उनसे बात करनी चाहिए अपनी मजबूरी बतानी चाहिए शायद उनकी इंसानियत जाग जाए पर फिर भी अगर वो फीस या बुक्स के लिए दबाव बनाएं तो पेरेंट्स ज्यादा से ज्यादा उस स्कूल के ख़िलाफ़ शिकायत करवाए !

3. शिकायत लिखित मे करे और बात ना बनने पर वो शिकायतें लेकर हमारे पास सुप्रीम कोर्ट आएं हम आपकी पूरी मदद करेंगे !

4 . अगर आप आवाज़ नहीं उठाएंगे शिकायत नहीं करेंगे तो याद रहे आपके बच्चे भी यह देख रहे है कल वो भी अन्याय के ख़िलाफ़ कभी खड़े नहीं हो पाएंगे !

5 . Emi पर सरकार जल्द नई पॉलिसी लाने की सोच रही है ! Kushi unnati K


endra (Kuk Ngo)

21 views0 comments