Search
  • KUK NGO

"साहब जाने दो घर बूढ़े माँ बाप इंतज़ार कर रहे है"


पलायन कर रहे मजदूर भाइयो की मदद करने के बारे में I

यमुनानगर 16-मई-2020 (गुरुचरण ) I जैसा की आप सब को पता है की आजकल करोना महामारी का संकट पुरे विश्व पर मंडरा रहा है अपने भारत देश में भी इस बीमारी ने अपने पैर पसार लिए है जिस से पिछले 45 दिनों से पुरे भारत देश में लॉकडॉन लगा हुआ है फॅक्टरी कारखाने सब बंद पड़े है जिसके कारण हमारे देश में जो अपने मजदूर भाई उत्तर प्रदेश , बिहार से अलग अलग राज्यों में काम करने गए हुए थे उनके पास न तो रोजगार रहा है और न ही पैसा यंहा तक की उनके सर पर जो छत थी वो भी छीन गयी है ऐसे में वो बेचारे क्या करते इसीलिए उन्होंने वह से पैदल ही अपने गाँव में जाने का निर्णय कर लिया है इनकी संख्या आज लाखो में है जो महाराष्ट्र गुजरात पंजाब हरयाणा से अपने घर पैदल ही जा रहे है उनके साथ छोटे छोटे बच्चे भी है इनकी ये हालत देखकर मन भर आता है काफी भाई तो नंगे पैर ही चल रहे है हजारो किलोमीटर का सफर वो ऐसे ही कर रहे है




रास्ते मे कुछ समाज सेवी संस्थाए है जो उनकी मदद कर रही है खाना पानी दे रही है उनकी ये हालत देखकर मन में विचार आता है की ये जो कुछ भी हो रहा है इसमें इन बेचारो का क्या कसूर पर जो हो गया है उसे हम मिटा नहीं सकते पर इन मजदूर भाइयो की मदद जरूर कर सकते है अपने आस पास रोड पर जा रहे मजदूर भाइयो को खाना पीना दवाई चप्पल सेनिटाइज़र देकर उनकी मदद करें या फिर जो संस्थाए उनकी मदद कर रही है उनके साथ मिलकर उनकी मदद के लिए हाथ बढ़ाये अगर हम सारे देश वाशी ये प्रण लेले की हम इंसानियत के मार्ग पर चलेंगे तो हमारे देश में कोई भी बुखा नहीं मरेगा मदद करने से पहले सरकार ने जो Guidlines है उसका ध्यान भी रखना है कही भी भीड़ इकठी न करे उचित दुरी बनाये रखे मेरा आप सबसे यही अनुरोध है की आप सब ये सेवा जरूर करें किसी के दुःख में काम यही सच्ची सेवा है


#savehumanitywithkukngo

240 views0 comments